सीयूईटी पात्रता मानदंड 2024 (CUET Eligibility Criteria)

CUET पात्रता मानदंड 2024 (CUET Eligibility Criteria 2024) - राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) ने अपनी वेबसाइट पर सीयूईटी पात्रता मानदंड 2024 (CUET Eligibility Criteria) और आधिकारिक सूचना जारी कर दी है। विभिन्न  स्नातक कार्यक्रमों में दाखिला लेने वाले छात्रों  को सीयूईटी द्वारा निर्धारित न्यूनतम योग्यता शर्तों  को पूरा करना होगा। ध्यान दें कि चुने हुए विश्वविद्यालय और कोर्स के आधार पर सीयूईटी पात्रता मानदंड (CUET eligibility criteria) बदल सकते हैं।  यदि कोई छात्र इन योग्यताओं  को  पूरा नहीं करता है तो उसे बाद में अयोग्य घोषित किया जा सकता है। 
सीयूईटी (कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट)  केंद्रीय, राजकीय, मानित और अन्य CUET 2024 में भाग लेने वाले संस्थानों में स्नातक कोरसेस में दाखिला लेने के लिए एक महत्वपूर्ण प्रवेश परीक्षा है। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) सीयूईटी परीक्षा को कंप्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी) और ऑफलाइन पेपर आधारित परीक्षा (पेन-पेपर) दोनों तरीकों से करा  सकता है।
सीयूईटी 2024: स्नातक कार्यक्रमों के लिए पात्रता मानदंड (Eligibility for Undergraduate Program)
एनटीए ने प्रवेश सूचना के साथ ही सीयूईटी 2024 के लिए पात्रता मानदंड( CUET Eligibility Criteria) भी जारी कर दिए हैं. तो आइए देखते हैं सीयूईटी 2024 की पात्रता शर्तें क्या हैं:
  • सामान्य वर्ग के छात्रों को 12वीं कक्षा की परीक्षा में कम से कम 50% अंक प्राप्त करने चाहिए, जबकि अनुसूचित जाति (SC)/अनुसूचित जनजाति (ST) के छात्रों के लिए यह न्यूनतम अंक 45% है।
  • आप जिस कोर्स के लिए आवेदन कर रहे हैं, उसके आधार पर आपके 12वीं कक्षा के विषयों का चयन होना चाहिए।
  • उम्मीदवार भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • आप सीयूईटी के तहत अधिक से अधिक भाग लेने वाले विश्वविद्यालयों में जितने हो सके उतने कार्यक्रमों के विकल्पों के साथ आवेदन कर सकते हैं।
  • आप विश्वविद्यालय की कक्षा 12वीं की परीक्षा देते समय ही सीयूईटी के लिए आवेदन कर सकते हैं. हालांकि, काउंसलिंग के समय आपको पास होने का प्रमाण पत्र दिखाना होगा।
सीयूईटी 2024: आयु सीमा (CUET 2024 : Age Limit)
सीयूईटी 2024 देने के लिए कोई आयु सीमा नहीं है. लेकिन, परीक्षा देने के लिए उम्मीदवारों को शिक्षा संबंधी योग्यता पूरी करनी होगी।
सीयूईटी 2024 के लिए राष्ट्रीयता (CUET 2024 Nationality)
सीयूईटी 2024 में भाग लेने  के लिए  कुछ ज़रूरी शर्तें हैं:
  • उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • नेपाल और भूटान का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • 1 जनवरी 1962 से पहले भारत आए तिब्बती शरणार्थी जिन्होंने भारत को अपना स्थायी निवास स्थान बनाया हो।
  • पाकिस्तानी, बर्मीज़, श्रीलंकाई, केन्याई, युगांडाई, तंजानियाई, ज़ाम्बियाई, मलावीयन, ज़ैरीयन, इथियोपियाई और वियतनामी मूल के लोग जो स्थायी रूप से भारत आकर बस गए हों।
सीयूईटी 2024: परीक्षा देने के प्रयासों की संख्या (CUET 2024: Number of Attempts)
सीयूईटी परीक्षा देने के लिए प्रयासों की कोई निर्धारित सीमा नहीं है। जब तक आप योग्यता रखते हैं और परीक्षा के अन्य नियमों का पालन करते हैं  तब तक आप जितनी बार चाहें परीक्षा दे सकते हैं।  इसलिए सीयूईटी देने के लिए सबसे जरूरी है कि आप परीक्षा के लिए निर्धारित शर्तों को पूरा करते हों।
सीयूईटी पात्रता मानदंड (CUET Eligibility Criteria) : मुख्य बातें
  • सीयूईटी परीक्षा में शामिल होने वाले हर विश्वविद्यालय की अपनी पात्रता मानदंड होती  हैं।
  • ऐसी उम्मीद है कि दाखिलों के लिए केवल सीयूईटी स्कोर और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा के अंकों को ही  माना  जाएगा।
  • अभी तक आयु सीमा के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।  लेकिन हो सकता है कि एनटीए पात्रता मानदंड जारी करते समय अधिकतम और न्यूनतम आयु सीमा बताए।
सीयूईटी आरक्षण (CUET Reservation)
सीयूईटी परीक्षा भारत सरकार द्वारा स्थापित केंद्रीय विश्वविद्यालयों के स्नातक कौरसेस में दाखिले के लिए ली जाती है इसलिए हर केंद्रीय विश्वविद्यालय को भारत सरकार के आरक्षण नियमों का पालन करना जरूरी है।  सीयूईटी पात्रता मानदंड (CUET Eligibility Criteria) में अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) और दिव्यांग (PwD) वर्गों को कुछ रियायतें दी जाती हैं.
श्रेणी
आरक्षण
अनुसूचित जाति (Scheduled Castes)
15%
विकलांग व्यक्ति (Persons with Disability)
5%
अन्य पिछड़ा वर्ग  (Other Backward Classes) (Non-Creamy)
27%
EWS 
10%
अनुसूचित जनजाति (Scheduled Tribes)
7.5%
सीयूईटी परीक्षा देने से पहले सभी छात्रों को ये दो चीज़ें ज़रूर करनी चाहिएं:
  • अपनी योग्यता जांचें  
सीयूईटी पात्रता मानदंड (CUET eligibility criteria) को ध्यान से पढ़ें। 
जिस कॉलेज या यूनिवर्सिटी में आप आवेदन कर रहे हैं, उनकी भी पात्रता मानदंड देखें। 
  • ज़रूरी दस्तावेज़ों की जानकारी जुटाएं  
आवेदन करने से पहले पता कर लें कि आपको कौन-कौन से दस्तावेज़ जमा करने होंगे।  ये दस्तावेज़ सीयूईटी परीक्षा के लिए और कॉलेज में दाखिले के लिए अलग-अलग हो सकते हैं।
FAQs 
सीयूईटी का पूरा नाम क्या है ?
सीयूईटी "कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट" पहले केवल केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए आयोजित की जाती थी। लेकिन अब सीयूईटी 400+ केंद्रीय, राज्य और अन्य संथाओ में स्नातक कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए एक समान परीक्षा है
सीयूईटी  कितनी बार होती है?
सीयूईटी परीक्षा साल में एक बार आयोगित कराई जाती है
सीयूईटी कब आयोजित की जाएगी?
राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) सीयूईटी 2024 का आयोजन 15 मई से 31 मई 2024 के बीच करेगा
सीयूईटी 2024 के लिए रजिस्ट्रेशन कब शुरू होगा?
सीयूईटी 2024 के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुकी है और रजिस्ट्रेशन कराने की आखिरी तारीख 5 अप्रैल होगी
क्या दिल्ली विश्वविद्यालय सीयूईटी स्कोर स्वीकार करेगा?
दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा जारी नवीनतम प्रवेश नीति के अनुसार, छात्रों को अब सीयूईटी स्कोर के आधार पर ही दाखिला दिया जाएगा। अब से, डीयू कक्षा 12वीं कटऑफ के आधार पर दाखिला नहीं देगा। कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी) का उद्देश्य स्नातक कार्यक्रमों में आवेदन करने वाले छात्रों को समान अवसर प्रदान करना है
क्या सीयूईटी 2024 परीक्षा ऑनलाइन या ऑफलाइन होगी?
सीयूईटी 2024 परीक्षा हाइब्रिड मोड (ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों) में आयोजित की जाएगी। प्रश्नपत्र में बहुविकल्पीय (MCQ) प्रकार के प्रश्न होंगे
सीयूईटी या दाखिले के लिए आवेदन करते समय कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है?
परीक्षा या दाखिले के लिए आवेदन करने से पहले, छात्रों को अपने प्रमाणपत्रों को जांचना चाहिए और आवश्यक दस्तावेजों से अवगत होना चाहिए, जैसे कि पास होने का प्रमाणपत्र, आरक्षण श्रेणी का प्रमाणपत्र आदि
सीयूईटी और उसकी तैयारी के बारे में छात्र अधिक जानकारी कहां से प्राप्त कर सकते हैं?
  सीयूईटी के बारे में विस्तृत जानकारी, जिसमें पात्रता मानदंड, परीक्षा पैटर्न, तैयारी के संसाधन और अपडेट शामिल हैं, आधिकारिक सीयूईटी और एनटीए वेबसाइटों के साथ-साथ सीयूईटी पाठ्यक्रम प्रदान करने वाले शैक्षणिक प्लेटफार्मों पर भी मिल सकती है
क्या अंतर्राष्ट्रीय छात्र सीयूईटी के लिए पात्र हैं?
विशिष्ट देशों (जैसे पाकिस्तान, बर्मा, श्रीलंका, केन्या, युगांडा, तंजानिया, जाम्बिया, मलावी, इथियोपिया, वियतनाम) के अंतर्राष्ट्रीय छात्र जो स्थायी रूप से भारत आ गए हैं, वे सीयूईटी के लिए पात्र हैं
Rate Us
Views:1232